Breaking News
Home / Interesting / सरकार अगर 5 रूपये शराब की बोतल पर बढ़ा दे तो इतना सस्ता हो जायेगा पेट्रोल कि जानकर आप भी यकीन नहीं कर पाएंगे

सरकार अगर 5 रूपये शराब की बोतल पर बढ़ा दे तो इतना सस्ता हो जायेगा पेट्रोल कि जानकर आप भी यकीन नहीं कर पाएंगे

पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ रहे दामों को लेकर देशभर में हाहाकार मचा हुआ है. पेट्रोल डीजल की वजह से मोदी सरकार हर तरफ से घिरती नजर आ रही है क्योंकि हर दिन दाम बढ़ रहे हैं लोग विरोध में सड़क पर उतर रहे हैं. अभी हाल ही में 10 सितंबर को कांग्रेस ने भारत बंद का ऐलान करके मोदी सरकार के खिलाफ पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया. इस दौरान कांग्रेस का साथ अन्य 21 दलों ने दिया और सड़क पर जमकर प्रदर्शन किया. सरकार की तरफ से अभी तक किसी भी प्रकार की राहत देने की खबर नहीं आई है.

Image Source-NAYOOZ HINDI

ऐसे सस्ता हो सकता है पेट्रोल-डीजल 

पेट्रोल-डीजल को सस्ता करने के लिए आज हम कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं. जिसे अगर सरकार मान ले पेट्रोल डीजल पर जनता को राहत मिल सकती है. अगर सरकार चाहे तो पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाकर जनता को राहत दी जा सकती है लेकिन सरकार ऐसा भी कोई कदम नहीं उठा रही है जिससे जनता को ये विश्वास हो जाए कि पेट्रोल-डीजल सस्ता हो जाए. बता दें अगर सरकार शराब पर 5 रूपये बढ़ा दे तो जनता को पेट्रोल डीजल पर काफी राहत मिल सकती है.

Image Source-pradeshtoday

शराब पर 5 रूपये बढ़ जाएं तो इतना सस्ता हो जायेगा पेट्रोल-डीजल 

आपको भी जानकर हैरानी होगी कि शराब पर 5 रूपये बढ़कर जनता को काफी राहत मिल सकती है. जी हाँ मध्यप्रदेश सरकार अगर शराब की लाइसेंस फीस 9.30 फीसदी बढ़ा दे तो पेट्रोल इतना सस्ता हो जायेगा कि जानकर आपको भी यकीन नहीं होगा. तो बिना वक्त खराब किये आपको बता दें अगर 9.30 फीसदी शराब पर फीस बढ़ जाती है तो पेट्रोल पूरे 3.30 रूपये तक सस्ता हो जायेगा, जोकि जनता को काफी राहत पहुंचा सकता है.

Image Source-India.com

गौरतलब है कि सरकार को बस शराब की छोटी बोतल पर महज 5 रूपये बढ़ाने होंगे जिससे जनता को यह राहत मिल सकती है. राज्य में रोजाना 7 लाख लीटर शराब बिकती है, जिसके हिसाब से इसकी सालाना बिक्री 25.50 करोड़ लीटर हुई. अगर लीटर की बात करें तो यह बढ़ोत्तरी 30 रूपये प्रति लीटर के आसपास होगी. 5 रूपये बढ़ने के बाद सरकार की शराब से रोजाना कमाई 2.10 करोड़ रूपये ज्यादा हो जाएगी. इस हिसाब से सालभर में सरकार इससे 766 करोड़ रूपये कमा सकती है.

Image Source-National Herald

आंकड़े के हिसाब से बता दें राज्य में हर साल 230 करोड़ लीटर पेट्रोल-डीजल बिकता है. जिसपर सरकार 4 रूपये प्रति लीटर का एडिशनल टैक्स वसूल करती है. इस टैक्स से सरकार सालाना 920 करोड़ रूपये वसूल करती है. वहीँ सरकार यहाँ पैसे घटा देती है तो सरकार की कमाई 154 करोड़ ही रह जाएगी लेकिन बाकी के पैसे सरकार शराब पर पैसे बढ़ाकर अपना एवरेज निकाल सकती है. अब देखना यह है कि सरकार जनता को राहत देने के लिए क्या कदम उठाने वाली है.

News Source-Bhaskar

About Nishant